Latest News

सोमवार, 8 अप्रैल 2019

पीड़िताओं ने खाकी पर लगाए गहरे दाग#GLOBAL INDIA TV NEWS


नाबालिग बेटीयों से गैंगरेप, आरोपी पकड़ से दूर

कानपुर: 08/ 04/2019 (ब्यूरो सूरज वर्मा) जनपद के काकादेव थाना क्षेत्र में सामूहिक बलात्कार का एक शर्मनाक मामला सामने आया है। नाबालिग के साथ गैंगरेप, काकादेव पुलिस ने नहीं की कोई कार्यवाही, अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद दर्ज हुई FIR.

यूपी सरकार भले ही महिला अपराधों के प्रति गंभीर हो। हालांकि कानपुर पुलिस पर इसका कोई खास असर नहीं दिखाई देता है। पीड़िता चिल्ला चिल्ला कर गुहार लगाती रही मगर खाखी चुप खड़े सुनती रही। महिला ने न्याय के लिए आलाधिकारियों से घर लगाई तब कहीं जाकर 20 मार्च 2019 को FIR दर्ज की गई।

योगी -मोदी सरकार होने के बावजूद यहां पुलिस गैंगरेप जैसे मामलों में कार्रवाई के बजाए इसे दबाने का प्रयास करती है। ताजा मामला काकादेव थाना क्षेत्र चौकी शास्त्री नगर में देखने को मिला जायेगा।पूरा मामला काकादेव थाना क्षेत्र में रहने वाली नाबालिग लड़की का है कई रिश्तेदारों ने बंधक बनाकर गैंग रेप किया था। 
महिला का आरोप है कि घटना की जानकारी होने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की

मामला बढ़ता देख पुलिस के उच्च अधिकारियों ने  मुकदमा दर्ज करने का आदेश दे दिया। लेकिन अब  आरोपी को पुलिस अभी तक पकड़ नहीं पाई है।पीड़ित के माता पिता दोनों की 4 वर्ष पहले मृत्यु हो चुकी है दोनों नाबालिग बच्चियां इंसाफ के लिए अधिकारियों से गुहार लगा रही है लेकिन सुनने वाला कोई नहीं है। दोनों बच्चियां अपने भाई के साथ रहती है। 
आज पीड़ित ने मीडिया के सामने अपनी बात रख कर न्याय की गुहार लगाई है। नाबालिक लड़की की उम्र 15 वर्ष है 2017 में हुए गैंगरेप के आरोपी के रिश्तेदारों ने पीड़िताओं के घर पर आधी रात में पीडत को जान से मारने की धमकी दे डाली। पीड़ित के घर पर आरोपी जाकर जान से मारने की धमकी और पथराव करते हैं जब वह स्थानीय थाने को मामले की जानकारी देती है तो पुलिस कोई भी कार्रवाई करने से कतराती है।
पीड़िता ने आरोप लगाया कि अपराधी नए-नए नंबरों से नाबालिक बच्चे को फोन करते हैं, मुकदमा वापस लेने के लिए दवाब बनाते है। कहते है FiR वापस लेलो और अपने बयानों को बदल दो नहीं तो बयान देने पर जान से मार देंगे। इस मामले में CO स्वरूप नगर और थाना काकादेव, चौकी इंचाज विपक्षियों से मिले हुए है और उनपर पैसा लेने का आरोप लगा रही है।

मोदी जी महिलाओं की सुरक्षा के बड़े बड़े वादे तो करते हैं लेकिन कानपुर में नाबालिक बच्चों की सुनने वाला कोई अधिकारी नहीं है नाबालिग बच्चियों ने एडीजी से लेकर सीएम हेल्पलाइन तक अपनी शिकायत की लेकिन पुलिस के कान में जूं तक नहीं रेंगी।
पीडत ने आरोप लगाया कि हम दोनों बहनों को अगर कुछ होता है तो उसके जिम्मेदार काकादेव पुलिस होगी क्योंकि वह आरोपियों का साथ दे रही है। महिला की FIR में 8 लोगो को पीड़िता ने दर्ज करवाया है पर अभी तक पुलिस गिरफ्तार क्यो नही कर रही है?

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें


Created By :- KT Vision