Latest News

रविवार, 7 अप्रैल 2019

बोरवेल के गड्ढे में ही दफन रहेगी बेबी आसिम#GLOBAL INDIA TV NEWS


फर्रुखाबाद: 07/04/2019 { ब्यूरो तौफीक फारुखी} जनपद के कमालगंज के थाना क्षेत्र के ग्राम रशिदापुर में 6 साल की मासूम बच्ची बोरबेल में गिर गयी थी। बच्ची को निकालने के लिए जिला प्रशासन ने मलेट्री,  एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, पैरा मिलेट्री फोर्स को बुलाया गया था। तीनो टीमो के द्वारा बच्ची को बचाने के लिए एक असीम ऑपरेशन चलाया गया। ऑपरेशन 58 घंटे तक चला। लेकिन सेना की टीमो को असफलता मिली। इन सवालो के जबाब प्रशासन को देने होंगे --

1:- क्यों नही मिली सेना की तीनों टीमो को ऑपरेशन में सफलता ?
2:- क्यों दिए एसडीएम ने ऑपरेशन बंद करने के आदेश ?
3:- क्या मासूम सीमा मिट्टी में ही रहेगी दफन ?
4:- क्या परिजनों को नही देखने को मिलेगी मासूम सीमा ?
5- क्या 6 महीने की ट्रेनिंग पर आये आईएएस अमित आसेरी को ऑपरेशन की कमान देना सही था  ? 
सबसे पहले मलेट्री के जवान बुलाये गए जवानों ने बच्ची को निकालने में काफी प्रयास किया लेकिन असफल रही उसके बाद आगरा से पैरा मिलट्री फोर्स को बुलाया गया लेकिन बच्ची को निकालने में असफल रही फिर एन डीआरएफ - एसडीआरएफ फोर्स को बुलाया लेकिन सभी टीम बच्ची को निकालने में असफल रही 58 घंटे ऑपरेशन चलने के बाद बच्ची को बाहर नही निकाल पाए। एसडीएम अमित आसेरी ने 58 घंटे असीम ऑपरेशन चलने के बाद ऑपरेशन रुकवा दिया और मासूम बच्ची सीमा के परिजनों के ऊपर लेखपाल अनूप मिश्रा और पूर्व प्रधान पप्पू से दवाव बनवाकर परिजनों से हस्ताक्षर ले लिये की ये ऑपरेशन रोका जाता है और बच्ची हमको नही चाहिए ओर सेना को आदेश दे दिए कि आप लोग वापस जाओ।
परिजनों ओर ग्रामीणों  को एसडीएम अमित आसेरी ने जबरन हस्ताक्षर करने के लिए कहा और मीडिया से मिलने के लिए मना कर दिया । ओर एसडीएम ने पूर्व  प्रधान को कहा कि परिजनों के हस्ताक्षर करवाईये । एसडीएम ने ऑपरेशन को बंद करवा दिया और अन्य सेना के जवान भी आदेशानुसार वहाँ से चले गए ओर एसडीएम ने मीडिया को जबाब देने से मना कर दिया ।और धीरे से सभी अधिकारी भाग निकले। ग्रामीणों ने एकजुट होकर मासूम बच्ची के परिजनों के साथ मिलकर मीडिया के सामने कहा कि अधिकारियों के डर से हम सब कुछ नही बता रहे थे क्यों कि एसडीएम ने मना किया था। ग्रामीणों ने कहा कि जब हम सबका इतना नुकसान हो रहा है तो कुछ न कुछ रिजल्ट चाहिए।और साथ ही जिला प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें


Created By :- KT Vision