Latest News

मंगलवार, 9 अप्रैल 2019

ब्लास्ट बिग ब्रेकिंग: कानपुर ऑर्डिनेंस फैक्टरी में धमाका, भीषण हादसा हुआ#GLOBAL INDIA TV NEWS

ब्लास्ट बिग ब्रेकिंग
कानपुर: 09/04/2019 जनपद के अर्मापुर ऑर्डिनेंस फैक्ट्री में बॉयलर फटने के कारण कई लोग बुरी तरह से झुलस गए हैं इसमें दो व्यक्तियों को आनन-फानन में रीजेंसी अस्पताल भेजा गया है
कानपुर ऑर्डिनेंस फैक्टरी के कर्मचारियों का कहना है कि फैक्टरी में अचानक धमाका हुआ और सभी लोग उधर की तरफ भागे। आवाज वाले स्थान पर पहुंच कर उन्होने देखा कि कई लोगो के चिल्लाने की आवाजें आ रही है पूरे प्लांट में धमाके की आवाज से चारों अफरा-तफरी मच गई। वहाँ पहुँचे प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बॉयलर फटा हुआ था।
उन्होंने घायल युवको को बचाने की कोशिश करी और अपने आलाधिकारियों को घटना से सम्बंधित सूचना भी दी। वहाँ पर मौजूद लोगों ने अपने जख्मी साथियों को किसी तरह से बाहर निकाला और ऑर्डिनेंस हॉस्पिटल अर्मापुर (OHA) पहुँचाया। जहाँ पर तत्काल रूप में उनके पूरे शरीर पर बर्न क्रीम लगाई गई।
घटना क्रम
घटनानुसार जानकारी के मुताबिक डी-कॉइलड सिस्टम में पुलबैक टेस्टिंग का काम चल रहा था जिसके चलते अचानक हादसा हो गया और लगभग 6-7 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए है। जानकारी में ज्ञात हुआ कि उक्त मशीन में पिछले दिनों में भी काफी कमिया आ रही थी जिसके कारण अधिकारियों ने उक्त मशीन को बनने के लिए पहले भी भेजा था अभी यह दुबारा पिछले माह ही बनकर फील्ड गन कानपुर (FGK) से आया था। जिसको काम मे लेने से पूर्व इसकी अधिकारियों की निगरानी में टेस्टिंग का काम चल रहा था। एतिहातन अधिकारियों ने टेस्टिंग के लिए अलग जगह सुनिश्चित करके अपना परीक्षण का कार्य प्रारंभ कर दिया था। इस मशीन में कमियों के कारण काम मे लाने से पहले परीक्षण किया जाना जरूरी था। अधिकारियों की माने तो बिना टेस्टिंग के मशीन को प्लांट में लगाना घातक साबित हो सकता था किंतु अनहोनी को कौन टाल सकता है स्पेशल टेस्टिंग के दौरान यह हादसा हो गया।
बताया जा रहा है कि मशीन के भीतर ऑयल भरा हुआ होता है जो कि स्टार्ट करने में बहुत ज्यादा गर्म हो जाता है और इसमें हाइड्रोलिक प्रेसर भी होता है और चूंकि मशीन की टेस्टिंग हो रही थी तो ऑयल गर्म था ही उसके बाद अचानक न जाने क्या हुआ कि बॉयलर फट गया जिसके चलते ये भीषण हादसा हुआ। 
बॉयलर टेस्टिंग ब्लास्ट हादसे में कई घायल
इस मशीन के पुलबैक टेस्टिंग में ब्लास्ट होने में लगभग 6- 7 लोगो के घायल होने की खबर है। सभी घायलों को पहले ऑर्डिनेंस हॉस्पिटल में इलाज हेतु भेजा गया ततपश्चात फस्ट ऐड करके गंभीर रूप हुए घायलों को बेहतर उपचार हेतु कानपुर के सर्वोदय नगर स्तिथ रीजेंसी हॉस्पिटल में एम्बुलेंस के माध्य्म से पहुँचा दिया गया है। वहाँ के एक कमाण्डेन्ट अधिकारी ने स्वयं घायलों को अस्पताल तक पहुँचवाया। वहीं 7 लोग घायल हुए हैं जिनमें क्रमशः असिस्टेंट इंजीनियर प्रताप सिंह, पंकज श्रीवास्तव, संदीप केलकर के साथ रामचंद्र गुप्ता, करुणा शंकर, एग्जामिनर एमपी महतो आदि कर्मचारी शामिल हैं। जिनमे से 2 की मौत हो चुकी है।
टेक्निकल पॉइंट का नज़रिया और मृतक

मशीन के फटने से अभी तक 2 युवक के मृत्यु होने की खबर मिल रही है और एक के पेट मे गंभीर चोटे आयी है सभी का उपचार हो रहा है। जब बॉयलर फटा तो हेवी प्रेसर होने के कारण उसमे भरा हुआ ऑयल भी उछलता है और मशीन के फटने से उसके आयरन पार्टिकल भी हवा में उछलते है ऑयल और मशीन के फटे हुए टुकड़े आस पास मौजूद कर्मचारियों और अधिकारियों के लगे और उनके ऊपर गर्म तेल भी गिरा। जहाँ जहाँ पर ये गिरा वहाँ वहाँ पर कर्मचारियों के अंगों को झुलसा दिया। समझने वाली बात यह भी है कि अगर मशीन ठीक से सही नही हुई थी तो उसको बना कर ऑर्डिनेंस क्यो भेजा गया? क्या मशीन बनाने के बाद टेक्निकल डिपार्टमेंट मशीन की स्वय टेस्टिंग नही करता है। ऐसे कई सवाल है जिनके जवाब अधिकारियों को देने होंगे।

अधिकारी अभी तक बॉयलर के फटने के कारण नही समझ पा रहे है। सभी कर्मचारी और अधिकारीगण अपने घायल कर्मचारियों के बेहतर इलाज में लगे हुए है किसी ने कैमरे के सामने घटना से सम्बंधित सवालों का जवाब देने से मना कर दिया उनका कहना है कि हम पहले अपने मरीजो का इलाज सुनिश्चित कर ले फिर मीडिया को बयान देंगे।
खबर लिखे जाने तक 3-4 कर्मचारियों को बेहतर उपचार हेतु रीजेंसी हॉस्पिटल भेजा गया है बाकी का अर्मापुर हॉस्पिटल में ही इलाज चल रहा है।
फिलहाल ऑर्डिनेंस अधिकारियों के द्वारा पुलिस को सूचना दे दी गई है और मोके पर पुलिस पहुँच भी चुकी है अर्मापुर SO भी मौके पर अपने दल-बल के साथ मौजूद रहे।

1 टिप्पणी:


Created By :- KT Vision