Latest News

रविवार, 12 मई 2019

कानपुर ब्रेकिंग: लुटेरी दुल्हन ने अपने पति का ही घर लुटा#GLOBAL INDIA TV NEWS



कानपुर नगर: 12/05/2019 (ब्यूरो सूरज वर्मा) उत्तर प्रदेश के जनपद कानपुर के काकादेव थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले काकादेव पुरानी बस्ती में रहने वाले एक परिवार में शादी शुदा महिला ने अपने पति को धोखा देकर रुपया और जेवरात लेकर भाग गई।

सूत्रों के मुताबिक काकादेव की पुरानी बस्ती में रहने वाले एक युवक देव नारायण उम्र लगभग 46 वर्ष एक किराये के घर मे रहते थे पिछले कुछ वर्षों पूर्व उनकी पत्नी का देहांत हो चुका था। जिसके बाद देव नारायण अकेले अपना जीवन यापन कर रहे थे। कुछ समय बाद उन्होंने जीवन साथी.कॉम  (jeevansathi.com) के माध्य्म से एक महिला जिसका नाम नीलू उम्र लगभग 40 वर्ष से मुलाकात और बातचीत हुई। जो कि उत्तरप्रदेश के मेरठ जनपद की रहने वाली है।



नाजरीन से बनी नीलू, जय से बना जाहिद
कुछ समय तक दोनों की फोन के माध्य्म से बातें सुरु हुई जिसके बाद दोनों ने एक साथ जीवन बिताने का निर्णय लिया। महिला नीलू उर्फ नाजरीन उम्र40 वर्ष, निवासी मेरठ जिसके एक पुत्र भी है जो कि लगभग 13 वर्ष का है। उसका नाम जय उर्फ जाहिद है। उसने देव नारायण से जब पहली मुलाकात की तब उसके साथ मे एक मुस्लिम युवक साहिद था जिसने दोनों की मुलाकात आपस मे करवाई  थी। जिसके बाद में दोनों ने शादी करने का फैसला किया।

हिन्दू रीति-रिवाज से हुई थी शादी और कोर्ट मैरिज से रजिस्ट्रेशन करवाया था


देव नारायण ने नीलू उर्फ नाजरीन ने पहले मंदिर में शादी की जिसके बाद दोनों ने 14/8/2018 को मैरिज ब्यूरो मे मैरिज रजिस्ट्रेशन आफिस उत्तरप्रदेश से रजिस्ट्रेशन करवा कर शादी कर सर्टिफिकेट प्राप्त का वैधानिक शादी की थी। देव नारायण पुत्र विस्वास नाथ सिंह, निवासी पनहार, औरैया ने नीलू पुत्री छोटे लाल, निवासी भगवती कुंज मेरठ से एक बेटे के होते हुए भी शादी की थी। जिसके बाद दोनों कानपुर के काकादेव पुरानी बस्ती में एक घर मे किराये पर रहने लगे थे दोनों का पारिवारिक जीवन सुखी से चल रहा था। देव नारायण का कहना है कि शायद साहिद ही उसका पहला पति भी हो सकता है।

बीबी ने दिया धोखा और घर पर किया हाथ साफ

देव नारायण एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करके अपने परिवार का भरण पोषण कर रहे थे। बीती 4 मई 2019 को अपने काम की वजह से उनको जनपद से बाहर जाना पड़ गया। उनका काम ही ऐसा था कि मार्केटिंग के लिए उनको अक्सर जनपद से गैर जनपद जाना पड़ता था। वह 08 मई 2019 को कानपुर वापस आये और फिर गैर जनपद चले गए। जब वह कल 11 मई 2019 को अपने घर कानपुर वापस आए तो उन्होंने अपना घर खुला पाया और जब वह घर के अंदर गए तो वहाँ उन्होंने अपनी पत्नी नीलू और बच्चे को नही पाया। उसके बाद देव नारायण ने अपनी पत्नी नीलू को फोन किया और उसने कई बार फोन नही करने पर भी जब फ़ोन उठाया तो इसने आस पड़ोस में जानकारी की तो पता चला कि वो चली गई है। देव नारायण ने अपने कमरे के अंदर देखा तो अलमारी खुली हुई थी और उसमें रखे हुए जेवरात और रुपया भी गयाब था।

अपने ही पति को दुल्हन ने लूट लिया, जेवरात और नगदी पर किया हाथ साफ

देव नारायण ने घटना से सम्बंधित सूचना अपने क्षेत्रीय थाने काकादेव को दी। उन्होंने अपनी तहरीर में लिखा है कि नीलू पहले से शादी शुदा थी जिसके बाद jeevnsathi.com के माद्यम से दोनों ने शादी की थी। देव नारायण को नही पता था कि नीलू का एक मुस्लिम पति भी है जिसका नाम शाहिद है। उसने घर मे अकेला होने के चलते घर रखे हुए लगभग 1 लाख के जेवर और 2 लाख रूपयों पर हाथ साफ कर दिया और कानपुर से मेरठ भाग गई। 

पति ने अपनी पत्नी के खिलाफ धोखाधड़ी और चोरी करने की दी तहरीर


पुलिस ने तहरीर ले ली है और नीलू के नम्बर पर बात करी तो उसने कहा कि वो देव नारायण के साथ नही रहना चाहती है। फिलहाल पुलिस ने देव नारायण की तहरीर ले ली है। उनका कहना है कि शादी कोर्ट मैरिज से हुई है अगर नही रहना है तो एक दूसरे से तलाख ले कर अलग अलग हो जाये। मामले की जाँच तथ्यों के आधार पर की जायेगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें


Created By :- KT Vision