Latest News

शनिवार, 8 जून 2019

जिला अस्पताल से कोई व्यवस्था नहीं दी जाती है मरीजों के लिए#GLOBAL INDIA TV NEWS

बलिया जिला अस्पताल में व्यापक स्तर पर दुर्व्यवस्था है-प्रशासन मौन है

बलिया: 08/06/2019 (सुरेंद्र कुमार गुप्ता ब्यूरो चीफ) उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में जिला चिकित्सालय के  मामला सामने आया है, जी हा यहाँ जिला अधिकारी से शिकायत करने पर मिलती है गालियां। ताजा मामला बलिया का है।

जिला चिकित्सालय में डाक्टर समय से नहीं आते हैं।

डाक्टर का सुबह 8:00 बजे बैठने का समय है परंतु आपने लीजिए क्वार्टर पर 300 से 500 पर मरीज को देखने के बाद ही जब खाली होते हैं जिला अस्पताल आते हैं।

कभी 11:00 बजे आते हैं डॉक्टर तो कभी 12:00 बजे आते हैं

मरीज से कहते हैं जिला अस्पताल के डॉक्टर यहां जिला अस्पताल में ज्यादा भीड़ आती है मेरे यहां क्लीनिक पर आओ अच्छे से देखेंगे।
जिससे बलिया में प्राइवेट अस्पतालों का गरीब लोगों का शोषण व्यापक स्तर पर चल रहा है।


जिला अस्पताल के मेहरबानी से

जिला अस्पताल पर कोई भी मरीज आता है दिखाने के लिए तो समय पर डॉक्टर नहीं मिलता है ना मिलने की वजह से मरीज पर वेट में दिखाने के लिए मजबूर होता है।
जिला अस्पताल में व्यवस्थाएं दुरुस्त नहीं हो रही हैं। इसमें विभागीय कर्मियों की लापरवाही उजागर हो रही है। जहां एक्सरे मशीन के प्लेटफार्म पर चाय की चुस्कियां ली जा रहीं है। वहीं अस्पताल कैंपस में जगह-जगह गंदगी फैली है।  

जिला अस्पताल में मरीजों को बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने के लिए लाखों रुपये खर्च किए जा रहे हैं। लेकिन विभागीय कर्मियों की लापरवाही के चलते मरीजों को सुविधाओं के लिए परेशान होना पड़ रहा है। जिला अस्पताल में लिफ्ट तो लगा दी गई है। लेकिन अब तक इसे चालू नहीं किया गया है। अब तो विभागीय कर्मियों ने उस स्थान को दुपहिया वाहन पार्किंग स्थल बना लिया है। वहीं पैथोलॉजी विभाग में मरीजों को जांचों की सुविधा के लिए लाखों रुपये की लागत से विभिन्न मशीन खरीदीं गईं है। इससे आने वाले मरीजों को जांच की सुविधा मिल सके। लेकिन कर्मचारियों की लापरवाही के चलते मशीनों का उपयोग अन्य कार्यों के लिए किया जा रहा है। ऐसी ही स्थिति बुधवार को पैथोलॉजी विभाग के एक्सरे रूम में रही। जहां पर एक्सरे मशीन के प्लेटफार्म पर चाय के कप रखे नजर आए।

इतना ही नहीं इसी प्लेट फार्म पर पानी का एक डिब्बा रखा था। जिससे स्पष्ट होता है कि एक्सरे मशीन का प्लेटफार्म का प्रयोग चाय की चुस्कियां लेने के लिए किया जा रहा है। इससे विभागीय कर्मचारियों की कार्यप्रणाली का अंदाजा लगाया जा सकता है। वहीं, अस्पताल का मेडिकल कचरा को परिसर में ही डाला जा रहा है। पैथोलॉजी विभाग में एक्सरे कक्ष के पीछे कर्मचारियों ने मेडिकल के कचरा का ढेर लगा दिया है।
अस्पताल में तैनात कर्मचारी कचरा को बाहर नहीं फेंक रहे है। इसके साथ ही इसी मैदान में नालियां की सफाई नहीं हो रही है। नालियों में कचरा भरा पड़ा है। इससे नालियों का गंदा पानी बाहर नहीं निकल पा रहा है। इसी मैदान में फैल रहा है। जिससे पैथोलॉजी विभाग में जांच के लिए आने वाले मरीजों को गली से निकलने पर गंदी बदबू आ रही है। साथ ही निकलने में संक्रामक बीमारियों के होने का भय सता रहा है। अस्पताल में व्याप्त अव्यवस्थाएं सुधरने का नाम नहीं ले रही है। जिससे अस्पताल में आने वाले मरीजों को परेशान होना पड़ता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें


Created By :- KT Vision