Home crime बाड़मेर…जिले में आजकल नकल गिरोह हुआ सक्रिय परिक्षाओं को बेदाग करने में सरकार की साख लगी हुई है दांव पर#Desh morcha

बाड़मेर…जिले में आजकल नकल गिरोह हुआ सक्रिय परिक्षाओं को बेदाग करने में सरकार की साख लगी हुई है दांव पर#Desh morcha

by Manoj Kumar

राजू चारण

बाड़मेर 18 सितंबर , तू डाल-डाल पर ओर में पात पात पर राज्य का सुस्त मुखबिरी पुलिस तंत्र और बेरोज़गारी से त्रस्त युवाओं को सब्जबाग दिखाकर लूटने वाले ……नकल गिरोहों द्वारा आज-कल दोनों ही अपने अपने हिसाब से एक दूसरे को आंख दिखाता हुआ नजर आ रहा हैं। कहीं पर पुलिस तंत्र कामयाबी हासिल करने में ओर कही पर नक़ल गिरोह ठगने में माहिर…
कुल मिलाकर लुटना तो हमारे राज्य के बेरोजगारों युवाओं को ही है और जो अपने घर परिवार की ज़मीन जायदाद ,धन- दौलत और अन्य दलालों के चक्कर में पड़कर अपनी जिंदगी दांव पर लगा रहे हैं। सफलता मिलने की उम्मीद बहुत कम दिखाई दे रही है लेकिन जेलयात्रा तो साफ़ साफ़ दिख रही है मौजूदा हालातों में……?

सब इंस्पेक्टर परीक्षा के दौरान अलवर के एक केंद्र का वीडियो सोशल मीडिया वायरल होने के मामले में राजस्थान लोक सेवा आयोग कड़ी कार्रवाई कर सकता है। एसओजी, अलवर जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक की रिपोर्ट को फुल कमीशन में रखा जाएगा। इसके अनुसार अभ्यर्थियों को डिबार और केंद्र को ब्लैक लिस्ट किया जाएगा।

अलवर के एक केंद्र से पोस्ट की गई ओएमआर शीट की तस्वीर पर अंकित नाम के आधार पर आयोग जांच में जुटा है। इसके लिए एसओजी और अलवर जिला प्रशासन से रिपोर्ट मांगी गई है। सचिव शुभम चौधरी ने बताया कि जांच रिपोर्ट के आधार पर आयोग कार्रवाई करेगा।

वायरल वीडियो में शिक्षक ओएमआर एकत्रित करती दिखी है। वीडियो में एक भरी हुई ओएमआर शीट भी दिखाई गई है। आयोग, पुलिस और संबंधित जिला प्रशासन को मोबाइल की सबसे अहम जांच करनी है। वीडियो परीक्षा की शुरुआत अथवा खत्म होते वक्त बनाया गया इसको लेकर तकनीकी जांच हो रही है।

एसओजी और प्रशासनिक जांच रिपोर्ट को फुल कमीशन में रखा जाएगा। इसके आधार पर दोषी अभ्यर्थियों को नियमानुसार आजीवन अथवा तीन से पांच परीक्षाओं के लिए डिबार किया जाएगा। जिस सेंटर पर लापरवाही हुई इसे ब्लैक लिस्टेड किया जाएगा।

सब इंस्पेक्टर सहित नीट-जेईई परीक्षाओं में मोबाइल-ब्लूटूथ आजकल सिरदर्द साबित हो रहा है । राज्य में पुलिसकर्मियों की सतर्कता से गिरोह और अभ्यर्थियों को पकड़ा। सब इंस्पेक्टर परीक्षा के दौरान उदयपुर में राजकीय बालिका विद्यालय में सोनू जाट नकली बालों की विग में ब्लूटूथ छिपाकर लाया। पाली में भी अभ्यर्थी राजेश विश्नोई परीक्षा केंद्र में मोबाइल और ब्लूटूथ लेकर पहुंचा। बीकानेर में रामसहाय स्कूल के प्रधानाचार्य दिनेश चौहान, कोचिंग सेंटर संचालक राजू मैट्रिक समेत दस लोगों को गिरफ्तार कर मोबाइल जब्त किए गए।

image_pdf

You may also like

Leave a Comment